Bibi-Ka-Makbara, Aurangabad

Aurangabad Caves, Aurangabad

Nasik Caves, Nasik

Ajanta Caves, Aurangabad

Ellora Caves, Aurangabad

Quila-I-Shakin, Daulatabad Fort, Aurangabad

संरक्षण तथा परिरक्षण - औरंगाबाद मंडल

औरंगाबाद मंडल के अधीन कुल १६८ संरक्षित स्मारक स्थल है जिनका निरीक्षण उपमंडल प्रभारी तथा वरीष्ठ अधिकारियों द्वारा किया जाता है ।

संरक्षण की नीति के अंतर्गत स्मारकों की आयु में वृध्दि को प्रमुखता दी जाती है तथा पुननिर्माण तब तक नहीं किया जाता जब तक वह ढाँचागत स्थिरता के लिए अत्यावश्यक नहीं हो । संरक्षण की नीति संबंधी निर्देश ’’पुरातत्वीय कार्य कोड तथा पुरातत्वीय संरक्षण मैन्युअल’’ में वर्णित हैं जिसके अनुसार संरक्षण का मुख्य उदेश्य स्मारकों का संरक्षण तथा परिरक्षण करना एवं संरक्षित स्मारकों के आस-पास के लोगों का विकास करते हुए पर्यटन को बढावा देना हैं ।

संरक्षण कार्य से पूर्व उक्त स्मारक का विस्तृत अध्ययन किया जाता है एवं पूर्व संरक्षण दस्ता वेजीकरण के पश्चात तत्संबंधी प्राकलन को अनुमोदन हेतु सक्षम प्राधिकारी को भेजा जाता है । सभी १६८ स्मारकों को विश्व विरासत स्मारक, टिकटीय स्मारक तथा अन्य स्मारकों में बाँटा गया है एवं स्मारकों के वर्गीकरण की विशेषता के अनुसार उनका संरक्षण किया जाता है । संरक्षण कार्य ए.आर (नॉन प्लान) एस.आर (प्लान), तथा जी.आइ.सी.ए. के अनुसार किया जाता है ।